InfoJankari

बिना नंबर सेव किए वेबसाइट से व्हाट्सएप मैसेज कैसे भेजें

व्हाट्सएप पर दुनिया भर में अरबों उपयोगकर्ता हैं, जो दिन भर में मल्टीमीडिया संदेश भेजते या प्राप्त करते हैं। समय के साथ, व्हाट्सएप भी एक तरह की डिफ़ॉल्ट टेक्स्टिंग सेवा बन गई है। हालाँकि, यह कभी कभी ऐसा होता है जिनसे आप केवल एक या दो बार व्हाट्सएप पर बात करते हैं। पहले यह अनिवार्य […]Read More

WhatsApp पर COVID-19 टीकाकरण प्रमाणपत्र पाने का तरीका

जिन नागरिकों को कोविड ​​​​-19 के खिलाफ टीका लगाया गया है, वे अब व्हाट्सएप के माध्यम से अपना टीकाकरण प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकते हैं। वर्तमान में, लोगों को CoWin पोर्टल में लॉग इन करके अपना टीकाकरण प्रमाणपत्र डाउनलोड करना होता है। अब 4 आसान चरणों में MyGov कोरोना हेल्पडेस्क (Corona Help Desk) के माध्यम […]Read More

नीरज चोपड़ा – द मैन विद गोल्डन आर्म

श्री नीरज चोपड़ा जिनका जन्म 24 दिसंबर 1997 को हरियाणा के पानीपत के खंडरा गांव में हुआ, एक भारतीय एथेलीट हैं जो भाला फेंकते (जेवलिन थ्रो – Javelin Thrower) हैं। श्री नीरज चोपड़ा भारतीय सेना में सूबेदार के पद पर कार्यरत हैं और वह भारत के लिए ओलंपिक स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले ट्रैक और […]Read More

गायत्री मंत्र: अर्थ, महत्व, और इसकी व्याख्या

गायत्री मंत्र (सावित्री मंत्र) का वर्णन पहली बार ऋग्वेद में किया गया था, जो लगभग 3,000 से 3,500 साल पहले संस्कृत में लिखा गया था। मूल गायत्री मंत्र क्या है? गायत्री मंत्र में आठ शब्दों के एक समूह के अंदर चौबीस शब्दांश शामिल हैं। मूल गायत्री मंत्र, जैसा कि ऋग्वेद में दिया गया है, आज […]Read More

करवा चौथ कब होता है? इस खास वजह से की

हिंदू धर्म में करवा चौथ  के त्योहार का विशेष महत्व होता है। नवरात्रि के बाद से त्योहारों का सिलसिला शुरू हो जाता है। दशहरा के बाद करवा चौथ  का व्रत हर साल कार्तिक मास में कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को रखा जाता है। करवा चौथ के दिन सुहागिनें पति की लंबी आयु की कामना […]Read More

लोक आस्था का महापर्व छठ पूजा – छठी मैया, पूजा

सनातन धर्म में एक मात्र पर्व जो वैदिक कल से चला आ रहा है या यूँ कहे की हिन्दू परंपरा का सबसे प्राचीनतम पर्व छठ पूजा है। छठ पूजा या डाला छठ कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष के षष्ठी को (दीपावली के छह दिन बाद) मनाया जाता है। प्रतिवर्ष दो बार आने वाली छठ पूजा […]Read More

51 शक्ति पीठों की सूची, स्थान और उनसे जुड़े अंग

हिंदू सनातन धर्म में पुराणों का विशेष महत्‍व है। इन्‍हीं पुराणों में माता के शक्‍तिपीठों का भी वर्णन है। पुराणों की ही मानें तो जहां-जहां देवी सती के अंग के टुकड़े, वस्‍त्र और गहने गिरे, वहां-वहां मां के शक्‍तिपीठ बन गए। ये शक्तिपीठ पूरे भारतीय उपमहाद्वीप में फैले हैं।मान्यताओं के अनुसार, शक्तिपीठ की कहानी – […]Read More

हिन्दू धर्म में प्रयुक्त शब्दों के अर्थ और उनसे जुडी

इस लेख में आपको हिन्दू धर्म में प्रयोग में आने वाले शब्दों के अर्थ और इस धर्म से जुडी गणनाओं, तिथियों और वैदिक शब्दों के बारे में बताया गया है।  पढ़ने का आनंद ले और इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने बच्चो और प्रियजनों के साथ साझा भी करें। हम मिलकर अपनी समृद्ध संस्कृति और इससे […]Read More

धनतेरस और धन्वन्तरि जयंती क्या है? धनतेरस का असली महत्व

विक्रम सम्वत कैलेंडर के अनुसार धनतेरस, कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी के दिन अर्थात दिवाली से दो दिन पहले मनाया जाता है। अगर हम धनतेरस का संधि-विच्छेद करें तो ‘धन’ का मतलब समृद्धि और ‘तेरस’ का मतलब तेरहवां दिन होता है। कहते हैं की इसी दिन भगवन धन्वन्तरि का जन्म समद्र मंथन के […]Read More

‘दिवंगत आत्मा को सद्गति’ या ‘REST IN PEACE’ (RIP)

आजकल आप RIP शब्द का प्रयोग सोशल मीडिया या अन्य जगह पर अवश्य देखा होगा। अगर आपको ये समझ न आया हो इसका मतलब क्या है तो इस पोस्ट को पढ़े क्यूंकि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको RIP का full form, उसका उद्भव और उसके कहे जाने का मतलब पता चल जायेगा। इस शब्द […]Read More